पाकिस्तान से 'मोस्ट फेवर्ड नेशन' का दर्जा वापस:जानिए क्‍या होता है मोस्ट फेवर्ड नेशन (सर्वाधिक तरजीही देश)

दिनांक: February 15, 2019

WTO GATT trade terrorism

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्‍तान के विरूद्ध  सख्‍त कदम उठाया है। पाकिस्‍तान से सर्वाधिक तरजीही देश  का दर्जा वापस ले लिया गया है। यह कदम दक्षिण कश्‍मीर के पुलवामा में नींद उड़ा देने वाले आतंकी हमले में 44 जवान शहीद होने के कारन लिया गया है।

x

क्या है एमएफएन
व‍िश्‍व व्‍यापार संगठन और इंटरनेशनल ट्रेड नियमों के आधार पर व्यापार में सर्वाधिक तरजीह वाला देश (एमएफएन) का दर्जा दिया जाता है। यह विश्व व्यापार संगठन (WTO) द्वारा टैरिफ एंड ट्रेड (GATT) पर सामान्य समझौते में पहला खंड है जो वस्तुओं में व्यापार को नियंत्रित करता है, एमएफएन का दर्जा दिए जाने पर देश इस बात को लेकर आश्वस्त रहते हैं कि उसे व्यापार में नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा। भारत ने पाकिस्तान को 1996 में एमएफएन का दर्जा दिया था। पाकिस्‍तान को जब यह दर्जा मिला तो इसके साथ ही पाकिस्तान को अधिक आयात कोटा देने के साथ और उत्‍पादों को कम ट्रेड टैरिफ पर बेचे जाने की छूट मिलती है। बता दें कि भारत की ओर से पाक को दिया गया यह दर्जा एकतरफा है। पाकिस्तान ने भारत को ऐसा कोई दर्जा नहीं दिया है। पाकिस्तान ने वर्ष 2012 में भारत को एमएफएन यानी विशेष तरजीह देश का दर्जा देने का ऐलान किया था, लेकिन अभी तक वो वादा नहीं निभाया है।